Jal Shakti Yojana Kya Hai ? जल शक्ति अभियान | 2021 Hindi

 

आज हमारे देश में जल काफी बड़ी समस्या है बहुत से लोगों को जल की कमी कोई बड़ी समस्या नहीं लगती है लेकिन देश के ऐसे बहुत से राज्य है जहां पर जल की गंभीर समस्या बनी हुई है और आने वाले समय में यह समस्या और भी बड़ी होती जा रही है इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने एक नई योजना की शुरुआत की है Jal Shakti Yojana केंद्र सरकार ने शुरू किया है जल शक्ति अभियान भी कह सकते हैं |

क्योंकि इसे एक अभियान के तहत चलाया जा रहा है जिससे कि लोगों को जागरूक किया जा सके कि जल है तो कल है इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार देश के उन राज्यों को चयनित कर रही है जहां पर पानी की काफी बड़ी समस्या बनी हुई है या फिर आने वाले कुछ सालों में पानी की कमी हो सकती है |

ताकि सरकार जो है इस योजना के तहत काम कर सके और इस पानी की समस्या का समाधान निकाल सके इसके लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार काम कर रही है हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको Jal Shakti Yojana के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे जहां पर हम बात करेंगे कि यह योजना किस प्रकार से काम करेगी और इससे आम लोगों को क्या फायदा पहुंचने वाला है जिससे कि आप इस योजना के बारे में और बेहतर तरीके से समझ पाएंगे |

लेकिन इससे पहले कि हम Jal Shakti Yojana के बारे में जानकारी देना शुरू करें हम आपको यह भी बताना चाहेंगे कि अगर आप हमारी तरफ से पहली बार आए तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हम इस वेबसाइट के माध्यम से केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी देते हैं |

Jal Shakti Yojana 2021

जलसंचय पर माननीय प्रधान मंत्री की प्रेरणा से प्रेरित होकर, जल शक्ति अभियान (JSA) एक समयबद्ध, मिशन-मोड जल संरक्षण अभियान है JSA दो चरणों में चलेगा: चरण 1 से 1 जुलाई से 15 सितंबर 2019 तक सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए और चरण 2 से 30 अक्टूबर 2019 तक राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए मानसून (आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, पुडुचेरी और तमिलनाडु) प्राप्त कर रहे हैं।

अभियान के दौरान, भारत सरकार के अधिकारी, भूजल विशेषज्ञ और वैज्ञानिक भारत के सबसे जल-तनाव वाले जिलों में राज्य और जिला अधिकारियों के साथ मिलकर * जल संरक्षण और जल संसाधन प्रबंधन के लिए पांच लक्षित हस्तक्षेप के त्वरित कार्यान्वयन पर ध्यान केंद्रित करके काम करेंगे। जेएसए का उद्देश्य संपत्ति संरक्षण और व्यापक संचार के माध्यम से जल संरक्षण को जन आंदोलन बनाना है।

जल जीवन मिशन, ग्रामीण भारत के सभी घरों में 2024 तक व्यक्तिगत घरेलू नल कनेक्शन के माध्यम से सुरक्षित और पर्याप्त पेयजल उपलब्ध कराने के लिए लागू किया गया है कार्यक्रम अनिवार्य तत्वों के रूप में स्रोत स्थिरता उपायों को भी लागू करेगा |

जैसे कि पुनर्भरण और पुन: उपयोग, ग्रे वाटर मैनेजमेंट, जल संरक्षण, वर्षा जल संचयन। जल जीवन मिशन पानी के लिए एक सामुदायिक दृष्टिकोण पर आधारित होगा और इसमें मिशन के प्रमुख घटक के रूप में व्यापक सूचना, शिक्षा और संचार शामिल होंगे। JJM पानी के लिए एक जनोलन बनाता है जिससे यह हर किसी की प्राथमिकता है।

Krishi Rin Mafi Yojana 2021 Hindi |

इस योजना का उद्देश्य 

राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों ने हर ग्रामीण घरेलू और सार्वजनिक संस्थान, अर्थात् के लिए दीर्घकालिक आधार पर पीने के पानी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए भागीदारी ग्रामीण जल आपूर्ति रणनीति की योजना बनाई है। जीपी भवन, स्कूल, आंगनबाड़ी केंद्र, स्वास्थ्य केंद्र, कल्याण केंद्र आदि।

राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों में पानी की आपूर्ति के बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए ताकि 2024 तक हर ग्रामीण घर में कार्यात्मक नल कनेक्शन (एफएचटीसी) हो और निर्धारित मात्रा में पर्याप्त मात्रा में पानी नियमित रूप से उपलब्ध हो सके।

राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों को उनकी पेयजल सुरक्षा के लिए योजना बनाना

जीपी / ग्रामीण समुदायों को अपने स्वयं के गांव में पानी की आपूर्ति प्रणालियों की योजना, कार्यान्वयन, प्रबंधन, खुद को संचालित करने और बनाए रखने के लिए

उपयोगिता दृष्टिकोण को बढ़ावा देकर क्षेत्र के सेवा वितरण और वित्तीय स्थिरता पर ध्यान केंद्रित करने वाले मजबूत संस्थानों को विकसित करने के लिए राज्य / संघ राज्य क्षेत्र

हितधारकों के क्षमता निर्माण और जीवन की गुणवत्ता में सुधार के लिए पानी के महत्व पर समुदाय में जागरूकता पैदा करना

मिशन के कार्यान्वयन के लिए राज्यों / संघ राज्य क्षेत्रों को वित्तीय सहायता का प्रावधान और जुटाना।

इससे योजना की विशेषता 

प्रत्येक ग्रामीण परिवार को FHTC प्रदान करना।

गुणवत्ता वाले क्षेत्रों में एफएचटीसी के प्रावधान को प्राथमिकता देने के लिए, सूखा प्रवण और रेगिस्तानी क्षेत्रों में गाँव, संसद आदर्श ग्राम योजना (एसएजीवाई) गाँव इत्यादि।

स्कूलों, आंगनवाड़ी केंद्रों, जीपी भवनों, स्वास्थ्य केंद्रों, कल्याण केंद्रों और सामुदायिक भवनों को कार्यात्मक नल कनेक्शन प्रदान करना

नल कनेक्शन की कार्यक्षमता की निगरानी करने के लिए।

नकद, प्रकार और / या श्रम और स्वैच्छिक श्रम (श्रमदान) में योगदान के माध्यम से स्थानीय समुदाय के बीच स्वैच्छिक स्वामित्व को बढ़ावा देना और सुनिश्चित करना

जल आपूर्ति प्रणाली, अर्थात् जल स्रोत, जल आपूर्ति के बुनियादी ढांचे और नियमित ओ एंड एम के लिए निधियों की स्थिरता सुनिश्चित करने में सहायता करना

इस क्षेत्र में मानव संसाधन को सशक्त और विकसित करने के लिए कि निर्माण, नलसाजी, विद्युत, जल गुणवत्ता प्रबंधन, जल उपचार, जलग्रहण संरक्षण, ओएंडएम इत्यादि की माँगों का ध्यान रखा जाता है।

विभिन्न पहलुओं पर जागरूकता लाने और सुरक्षित पेयजल के महत्व और हितधारकों की भागीदारी के तरीके से जो पानी को हर किसी का व्यवसाय बनाते हैं

CONCLUSION

हमने इस पोस्ट में लगभग आप को संपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है Jal Shakti Yojana 2021 के बारे में लेकिन इसके अलावा भी अगर आपको अधिक जानकारी चाहिए इससे जुड़ी हुई तो आप सरकार की अधिकारिक वेबसाइट पर भी जा सकते हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *